बूढ़ा पहाड़ छोड़ भागे नक्सली

बुलबुल जंगल से पहले पहले हीं भाग चुके हैं नक्सली

64

रांचीः बुलबुल के बाद अब बूढा पहाड से भी नक्सलियों का अड्डा उखड गया है। केंद्र सरकार की सख्ती और राज्य पुलिस के बढ़ते दबाव ने नक्सलियों का कमर तोड़ दिया है। नक्सलियों के घटते प्रभाव का दावा राज्य पुलिस ने भी किया है। राज्य के लातेहार और लोहरदगा की सीमा पर स्थित बुलबुल जंगल हो या लातेहार, गढवा – छत्तीसगढ की सीमा पर स्थित बूढा पहाड का इलाका। दोनों ही इलाके नक्सलियों के लिए सेफ जोन था। पुलिस और सुरक्षाबलों ने बुलबुल और बूढा पहाड में नक्सलियों को काफी क्षति पहुंचाया है। लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने अपनी पदस्थापना काल से ही नक्सलियों के खिलाफ जोरदार तरीके से ऑपरेशन चलाया। इससे नक्सलियों की कमर टूटी व कमजोर पडे। वहीं इन इलाकों से नक्सलियों को छोड़कर भागना पडा।