17 साल लंबा इंतजार हुआ खत्म, दक्षिण अफ्रीका को हराकर भारत दूसरी बार बना टी20 विश्व चैंपियन

132

नई दिल्ली : भारत ने आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में दक्षिण अफ्रीका को हराकर दूसरी बार टी20 विश्व कप का खिताब अपने नाम किया है. भारतीय टीम ने साल 2007 में इससे पहले विश्व कप अपने नाम किया था. भारत की जीत के हीरो विराट कोहली रहे, जिन्होंने 76 रनों की पारी खेली. उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया है. फाइनल का मुकाबला काफी रोमांचक रहा और भारत ने आखिरी गेंद पर मैच अपने नाम किया. दक्षिण अफ्रीकी पारी का 15वां ओवर फेंकने आए अक्षर पटेल ने ओवर में 24 रन बटोरकर हेनरिक क्लासेन ने भारत को एक समय मैच में पूरी तरह से बैकफुट पर धकेल दिया था. 15 ओवर का खेल पूरा होने के बाद दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 30 गेंदों पर 30 रन चाहिए थे, लेकिन इसके बाद बुमराह ने अपने अगले ओवर में सिर्फ चार रन दिए. मैच का 17वां ओवर फेंकने आए हार्दिक ने ओवर की पहली ही गेंद पर क्लासेन का विकटे हासिल किया और इस ओवर में सिर्फ 4 रन दिए. मैच का 18वां ओवर फेंकने आए बुमराह ने अपने स्पेल के आखिरी ओवर में सिर्फ 2 रन दिए और इस दौरान उन्होंने एक विकेट भी हासिल किया. भारतीय टीम इस समय तक मैच में वापसी कर चुकी थी. 15, 16, 17 ओवर को मिलाकर अफ्रीकी टीम सिर्फ 10 रन जोड़े पाई. मैच का 19वां ओवर फेंकने आए अर्शदीप ने शानदार गेंदबाजी करते हुए सिर्फ 6 रन देकर मैच को पूरी तरह से रोमांचक बना दिया था. भारत को चैंपियन बनने के लिए आखिरी ओवर में 16 रन डिफेंड करने थे और हार्दिक ने सिर्फ 8 रन दिए और भारत को चैंपियन बना दिया.

भारत ने साल 2007 का टी20 विश्व कप अपने नाम किया था, लेकिन उसके बाद से टीम इंडिया कभी भी टी20 विश्व कप नहीं जीत पाई. भारत साल 2014 में फाइनल में जरुर पहुंची थी, लेकिन उसे वहां हार मिली थी. भारत ने इसके साथ ही बीते एक दशक से लगे चोकर्स के टैग को भी हटा दिया है, क्योंकि यह साल 2013 टी20 विश्व कप के बाद भारत का पहला आईसीसी खिताब है.चौकर्स का टैग हासिल कर चुकी दक्षिण अफ्रीकी टीम इस मैच में एक बार फिर चौक कर गई. दक्षिण अफ्रीकी टीम 20 ओवरों में 8 169 रन बना पाई. दक्षिण अफ्रीका के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन रहे, जिन्होंने 52 रनों की पारी खेली. उनके अलावा क्विंटन डी कॉक ने 39 रन बनाए. भारत के लिए मैच में हार्दिक पांड्या ने तीन, दो बुमराह और अर्शदीप ने दो-दो विकेट लिए.

इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने विराट कोहली की 76 रनों की पारी के दम पर 20 ओवरों में 176 रन बनाए हैं. भारत ने 34 के स्कोर पर रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और सूर्यकुमार यादव के विकेट गंवा दिए थे, लेकिन इसके बाद टीम इंडिया को अक्षर पटेल और विराट कोहली की जोड़ी ने शानदार वापसी करवाई. दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी हुई. लेकिन इसके बाद अक्षर पटेल 47 रन बनाकर आउट हुए. भारत के लिए मैच में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज विराट कोहली रहे, जिन्होंने 59 गेंदों मेें छह चौके और दो छक्कों के दम पर 76 रनों की पारी खेली. दक्षिण अफ्रीका के लिए केशव महाराज और एनरिक नॉर्तजे ने दो-दो विकेट हासिल किए. बारबाडोस के केंसिंग्टन ओवल में हो रहे इस मुकाबले में भारत और दक्षिण अफ्रीका बिना किसी बदलाव के उतरी है.

  • भारत प्लेइंग इलेवन: रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, रवींद्र जड़ेजा, शिवम दुबे, अक्षर पटेल, अर्शदीप सिंह, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह
  • दक्षिण अफ्रीका प्लेइंग इलेवन: क्विंटन डी कॉक (विकेटकीप), रीजा हेंड्रिक्स, एडेन मार्कराम (कप्तान), ट्रिस्टन स्टब्स, हेनरिक क्लासेन, डेविड मिलर, मार्को जानसन, केशव महाराज, कैगिसो रबाडा, एनरिक नॉर्टजे, तबरेज़ शम्सी.