NEET-UG पेपर लीक मामले में हज़ारीबाग़ से एक और गिरफ़्तार

34

हजारीबाग: झारखंड-बिहार समेत देश भर में नीट पेपर लीक मामले को लेकर हंगामा मचा है। ऐसे में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानी सीबीआई की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। शनिवार (29 जून) को सीबीआई की टीम ने झारखंड के हजारीबाग से एक को गिरफ्तार किया। उसे शुक्रवार को ही पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी थी। नीट पेपर लीक केस में सीबीआई की ओर से झारखंड से की गई यह तीसरी गिरफ्तारी है। गिरफ्तार किए गए शख्स का नाम जमालुद्दीन है। इसके पहले सीबीआई की टीम ने हजारीबाग स्थित ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल और वाइस प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया था।2 लोग पटना से भी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। नीट पेपर लीक के तार देश के अलग-अलग हिस्सों से जुड़े हैं। सीबीआई की टीमें झारखंड, बिहार के साथ-साथ गुजरात में भी जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें : अब राजधानी में अपराधियों की खैर नहीं, CM चंपई सोरेन ने DGP को दिये निर्देश

ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल एहसानुल हक और वाइस प्रिंसिपल इम्तियाज आलम का शनिवार को मेडिकल कराया गया। सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक, हजारीबाग के स्थानीय शख्स का भी मेडिकल कराया जाएगा। इम्तियाज आलम नीट के इम्तहान के लिए सिटी को-ऑर्डिनेटर भी थे। प्रिंसिपल और वाइस प्रिंसिपल को शुक्रवार (28 जून) को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। इसके साथ ही एक स्थानीय शख्स को भी हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की थी। उसे आज गिरफ्तार कर लिया गया।नीट-यूजी 2024 पेपर लीक केस में सीबीआई की टीम ने शुक्रवार को हजारीबाग जिले के चरही स्थित सीसीएल गेस्ट हाउस में 6 लोगों से पूछताछ की। शाम 4 बजे दो अलग-अलग कार में 3 लोगों को अपने साथ पटना ले गई। जिन लोगों को सीबीआई की टीम पटना ले गई, उसमें एनटीए के सिटी को-ऑर्डिनेटर और सेंटर के केंद्राधीक्षक और एक शख्स शामिल हैं।