गुजरात चुनाव : नरोदा पाटिया दंगा मामले के दोषी की बेटी को भाजपा ने टिकट दिया

पेशे से ‘एनेस्थेसिस्ट’ पायल भाजपा की सबसे युवा उम्मीदवारों में से एक हैं

153

अहमदाबादः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गोधरा कांड के बाद 2002 में हुए नरोदा पाटिया दंगे के दोषियों में से एक की बेटी को अहमदाबाद की नरोदा सीट से विधानसभा चुनाव का टिकट दिया है।

नरोदा पाटिया दंग मामले में दोषी करार दिए गए 16 व्यक्तियों में से एक मनोज कुलकर्णी की बेटी पायल कुलकर्णी (30) को भाजपा ने टिकट दिया है। इन दंगों में 97 मुसलमानों की मौत हुई थी। पेशे से ‘एनेस्थेसिस्ट’ पायल भाजपा की सबसे युवा उम्मीदवारों में से एक हैं।

इसे भी पढ़ेंः बलियाः गिरे बिजली के तार की चपेट में आने से जीजा-साले की मौत

गुजरात उच्च न्यायालय ने नरोदा पाटिया दंगा मामले में मनोज कुलकर्णी और 15 अन्य की दोशसिद्धी को 2018 में बरकरार रखा था। उम्रकैद की सजा पाने वाले कुलकर्णी फिलहाल जमानत पर बाहर है।

भाजपा द्वारा टिकट दिए जाने के संबंध में पायल कुलकर्णी ने कहा, कि  मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल, मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और सभी पार्टी कार्यकर्ताओं तथा सदस्यों की आभारी हूं। मेरी मां एक पार्षद हैं और लंबे समय से भाजपा से जुड़ी हुई हैं। मैंने भी अतीत में चुनावी प्रक्रिया में हिस्सा लिया है।

पायल ने कहा कि अगर वह चुनाव जीतती हैं तो उनकी प्राथमिकता विधानसभा क्षेत्र को विकसित करना और स्थानीय लोगों की समस्याएं दूर करना होगा।

पायल की मां और स्थानीय पार्षद रेशमा कुलकर्णी ने कहा कि वह अपनी बेटी का पूरा सहयोगी करेंगी और सुनिश्चित करेंगी कि उसे जीत मिले।