‘टॉप स्कोरर अवार्ड’ पाकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं : हरमनप्रीत सिंह

हरमनप्रीत ने 18 गोल किए थे

72

भुवनेश्वरः भारतीय पुरुष हॉकी टीम के डिफेंडर हरमनप्रीत सिंह ने कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के आभारी हैं कि उन्होंने उन्हें ‘टॉप स्कोरर अवार्ड’ प्रदान किया है, साथ ही उन्होंने इस अवार्ड को अपने साथियों को समर्पित किया।

हरमनप्रीत सिंह को शुक्रवार को एफआईएच मेन्स हॉकी प्रो लीग 2021/22 में अग्रणी गोल करने वाले खिलाड़ी होने के लिए नकद पुरस्कार के साथ ‘टॉप स्कोरर अवार्ड’ से सम्मानित किया गया।

पिछले सीजन में 16 मैच खेलने के बाद, 25 वर्षीय हरमनप्रीत ने 18 गोल किए थे, जिनमें से 14 पेनल्टी कार्नर से आए थे। इसके अलावा हरमनप्रीत ने अपने अंतरराष्ट्रीय गोलों की संख्या भी 100 के पार पहुंचा दी है।

ड्रैग-फ्लिकर को भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में भारत और न्यूजीलैंड के बीच एफआईएच मेन्स हॉकी प्रो लीग 2022-2023 के मुकाबले के बाद पुरस्कार प्रदान किया गया था।

सम्मान स्वीकार करते हुए हरमनप्रीत सिंह ने कहा कि मैं एफआईएच का आभारी हूं, कि उन्होंने मुझे पुरस्कार प्रदान किया और मेरे प्रयासों को मान्यता दी। मैं इसे अपने साथियों को समर्पित करना चाहता हूं जिन्होंने मेरे पूरे करियर और हर कदम पर मेरी मदद की है।

 

भारतीय पुरुष हॉकी टीम एफआईएच मेन्स हॉकी प्रो लीग के पिछले सीजन में 16 मैचों में 30 अंक हासिल करने के बाद तीसरे स्थान पर रही थी। नए सीजन की शुरुआत के साथ ही हरमनप्रीत ने इस बार खिताब जीतने की उम्मीद जताई है।

 

उन्होंने कहा, एफआईएच प्रो लीग के नए सत्र की शुरुआत के साथ, मैं उसी फॉर्म में प्रदर्शन करना जारी रखना चाहता हूं और उम्मीद करता हूं कि इस बार मैं टीम को खिताब जीतने में मदद कर सकता हूं।

 

गौरतलब है कि, सीनियर पुरुष हॉकी टीम ने भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में एफआईएच प्रो लीग 2022-23 के अपने शुरुआती मैच में दो गोल से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए न्यूजीलैंड को 4-3 से हराया। शुक्रवार को भारत के लिए मनदीप मोर (13′), कप्तान हरमनप्रीत सिंह (41′) और मनदीप सिंह (51′, 56′) ने गोल किए, जबकि न्यूजीलैंड के लिए सैम लेन (22′, 35′) और जेक स्मिथ (34′) ने गोल किए।