नगर वासियों से विधायक दीपक बिरुवा ने की परिचर्चा

नागरिक समस्याओं पर विभागों से 15 दिनों में मांगा जाएगा जवाब: बिरुवा

106

 

चाईबासा: शहर की विभिन्न समस्याओं को लेकर पिल्लई हॉल में विधायक दीपक बिरुवा द्वारा आयोजित सार्वजनिक परिचर्चा में चाईबासा के प्रबुद्ध गणमान्य, आमजनों ने समस्याओं पर  परिचर्चा की और एकजुटता के साथ  समाधान के लिए विधायक दीपक बिरुवा के नेतृत्व में कार्यवाही करने का निर्णय लिया।
समस्याओं को सुनने के बाद विधायक दीपक बिरुवा ने कहा कि जो भी समस्याएं आई हैं सभी मामलों पर संबंधित विभाग को अवगत कराते हुए 15 दिनों के अंदर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया जाएगा।

शहर के लीज मामले पर विधायक ने कहा कि उक्त मामले को विधानसभा में तीन बार उठाया है। हर वार्ड में लीज नवीकरण हेतु कैंप लगाने की पहल की जाएगी।

लाइब्रेरी के लिए दो लाख दिलाने की घोषणा
चाईबासा स्थित स्टेट लाइब्रेरी में संसाधनों की कमी दूर करने के लिए विधायक ने विवेक निधि से दो लाख रुपए दिलाने की घोषणा की। इसके अलावा उन्होंने भरोसा दिलाया कि हवाई अड्डा में पुनः हवाई सेवा शुरू करने हेतु सरकार से आग्रह करेंगे अथवा उक्त जगह पर स्पोर्ट्स कांप्लेक्स बनाने का सदुपयोग होगा।

इसे भी पढ़ेंःविधायकों के लिए रांची में बनेंगे 71 आवास, हुआ भूमि पूजन

नगर परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष डोमा मिंज ने कहा कि शहरी जलापूर्ति योजना कार्यान्वयन में सड़क खोदी गई जिससे लोगों को परेशानी हो रही है।  श्री मिंज ने कहा कि बीच में फंड की कमी से जलापूर्ति योजना ठप थी लेकिन विधायक के प्रयास से फंड की कमी दूर हुई और पुनः काम शुरू हो सका।

वक्ताओं ने समस्या के साथ दिए सुझाव
वरीय नागरिक संतोष सुल्तानिया ने कहा कि सड़क तोड़ी गई तो ठीक भी होनी चाहिए। श्री सुल्तानिया ने विधायक जी से आग्रह किया कि अगली बार इस परिचर्चा में प्रशासन को भी जरूर शामिल करें।

चाईबासा चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष मधुसूदन अग्रवाल ने कहा कि मोक्ष स्थल के पास कचरों का अंबार है। छोटा ही सही निस्तारण प्लांट लगाया जाए। बिजली तार और पोल पुराने, कमजोर हो चुके हैं, बदलने की जरूरत है।

शिक्षाविद डा शशिलता ने कहा कि आबादी बढ़ेगी, समस्या भी बढ़ेगी। नये जल कनेक्शन से लगातार पानी बेकार बह रहा है।

वरीय अधिवक्ता रामेश्वर प्रसाद ने कहा कि जिला प्रशासन की उदासीनता से शहर की समस्या बनी रहती है। मिलकर हम सभी को समस्याओं को दूर करना होगा।

पार्षद प्रतिनिधि बिल्लू  राय ने कहा कि शहर में सीवरेज सिस्टम होना चाहिए। विभागीय पदाधिकारी फोन नहीं उठाते, गंभीर नहीं रहते हैं।

देवीशंकर दत्ता ने कहा कि शहर के लोग टैक्स दे रहे हैं, पर मूलभूत सुविधाएं तक ठीक से नहीं मिल रही है।

गुरु सभा के अध्यक्ष गुरमुख सिंह खोखर ने कहा कि एन एच 75 आवागमन लायक नहीं है, इसे जल्द बनना चाहिए। शहर का लीज नवीकरण शुरू किया जाए। चाईबासा में रेल, सड़क, हवाई सेवा सुविधा होनी चाहिए।

समाजसेवी प्रभात पसारी ने कहा कि जलापूर्ति योजना के लिए तोड़ना, फिर बनाना- इसमें जनता का ही पैसा बर्बाद हो रहा। पूरे शहर का डीपीआर होना चाहिए, जिसमें सभी विभाग समाहित रहे और पूरी प्लानिंग के साथ काम हो।

सामाजिक कार्यकर्ता राजाराम गुप्ता ने कहा कि शहरी जलापूर्ति योजना में कई वार्डो में पाइपलाइन अभी तक नहीं बिछाई गई है। जबकि वर्ष 1962 में जब शहरी जलापूर्ति योजना को लेकर जिन वार्डों में पाइप लाइन बिछाई गई थी उसमें भी कई वार्ड के मार्गों को सर्वे में छोड़ दिया गया। विशेषकर वार्ड संख्या 19 सदर बाजार मुख्य मार्ग में पाइप लाइन नहीं बिछाई गई है।

बंगाली सेवा समिति के आशीष सिन्हा ने कहा कि सदर अस्पताल में विशेषज्ञ डॉक्टर की प्रतिनियुक्ति होनी चाहिए।

पश्चिमी सिंहभूम चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष राजकुमार ओझा ने कहा कि पेयजल, बिजली और नगर परिषद की संयुक्त उपस्थिति में ऐसी परिचर्चा होनी चाहिए ताकि समस्याओं पर संबंधित विभाग से समन्वय बनाकर कार्रवाई की जा सके। इसके अलावा विकास मिश्रा ने हर वार्ड में कमेटी के गठन का प्रस्ताव दिया और जोड़ा तालाब के सुंदरीकरण पर जोर ‌देने की‌ बात कही।

पुरुषोत्तम शर्मा ने सड़कों की बेतरतीब खुदाई का मुद्दा उठाया तो विकास दोदराजका ने कहा कि यहां नारी निकेतन, शेल्टर हाउस और वृद्धाश्रम की व्यवस्था होनी चाहिए। अन्य वक्ताओं में राजकुमार रजक ने  पाइप लीकेज और जर्जर बिजली खंभे के तारों को बदलने की अपील की तो पुनीत सेठिया ने जल जमाव से राहत के लिएअंडर ग्राउंड गटर लाइन बनाने का सुझाव दिया।

इस दौरान राधेश्याम अग्रवाल, पार्षद नीतेश दोदराजका, लड्डू खिरवाल, जितेंद्र कुमार मधेशिया, शिक्षक उपेंद्र प्रसाद, वकील खान,विप्लव कुमार‌ और  मनोज आजाद ने भी समस्याओं पर ध्यान आकर्षित कराया।

परिचर्चा के दरम्यान कैलाश खंडेलवाल ने कहा कि पूरा शहर लीज पर है लेकिन लीज नवीकरण नहीं हो रहा है। हर वार्ड में लीज नवीकरण हेतु कैंप लगने चाहिए।

इसके अलावा परिचर्चा में पार्षद हृदय शंकर बिरुवा, पार्षद लक्ष्मी कच्छप, पार्षद जेबा फरहत, पार्षद रबिया खातून, राहुल तिवारी, मधुर सुंबरुई आदि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन दिलीप बनर्जी और धन्यवाद ज्ञापन सुभाष बनर्जी ने किया।