स्थापना दिवस के विज्ञापन में राज्यपाल की फोटो नहीं, भड़की भाजपा

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मांगा जवाब

79

रांची : भाजपा ने शिकायत की है कि झारखंड राज्य स्थापना दिवस के विज्ञापन में राज्य सरकार के द्वारा राज्यपाल रमेश बैस की तस्वीर नहीं छापी गयी। इसे लेकर सांसद संजय सेठ ने कड़ा एतराज भी जताया है।

सांसद ने कहा कि झारखंड स्थापना दिवस पर अखबारों के विज्ञापन में राज्यपाल की तस्वीर नहीं है जबकि राज्यपाल राष्ट्रपति के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करते हैं। यह महामहिम राष्ट्रपति का अपमान है ।

साथ ही बेहद दूर्भाग्यपूर्ण और दुर्भावनापूर्ण निर्णय है । ऐसा क्यों हुआ, इस पर राज्य सरकार को जवाब देना चाहिए । संजय सेठ ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से दुर्भावना की मानसिकता से ग्रसित होकर काम कर रही है ।

सरकार में बैठे लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इस देश का जो लोकतंत्र है, जो संवैधानिक परिपाटी रही है, जो लोकतांत्रिक ढांचा बना हुआ है, वह किसी भी रूप में बिखरे नहीं ।

परंतु सारी मर्यादाओं को तार-तार करके यह सरकार प्राइवेट लिमिटेड कंपनी टाइप से राज्य को चलाने का काम कर रही है । इतने बड़े स्थापना दिवस के कार्यक्रम में राज्यपाल की तस्वीर नहीं होना सरकार की ओछी मानसिकता को दर्शाता है ।

सांसद ने कहा कि इस मामले में राज्य के मुख्यमंत्री को जनता के सामने इस बात का जवाब देना चाहिए कि आखिर क्यों और किसकी गलती से ऐसा हुआ ।

 

 

यह भी पढ़ें – अपने बलबूते और ताकत से नयी पहचान बनाएगा झारखंडः हेमंत सोरेन