बंगाल में भ्रष्ट्राचार को रोकने में टीएमसी सरकार विफलः माकपा नेता मो. सलीम

सिलीगुड़ी में कई मुद्दों पर माकपा का निकला जुलूस

114

सिलीगुड़ीः पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले समते कई मुद्दों को सामने रखकर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की ओर से शनिवार को सिलीगुड़ी शहर में एक जुलूस निकाला गया।

इस जुलूस का नेतृ्त्व कर रहे पार्टी के प्रदेश महासचिव मोहम्मद सलीम ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा।

सलीम ने कहा कि कोयला से लेकर शिक्षक भर्ती घोटाले ही नहीं बल्कि डेंगू रोकथाम में भी टीएमसी सरकार पूरी तरह से विफल है। वहीं, राज्य में भ्रष्टाचार में टीएमसी के एक के बाद एक नेता फंसते जा रहे हैं। अगर आप किसी टीएमसी नेता के घर गये तो वहां रुपये की ढेर दिखेगी।

माकपा नेता ने कहा कि आज की टीएमसी विपक्ष से राजनीतिक मुकाबला करने बजाय आपसी गुटबाजी में उलझ गयी है। विपक्ष से लड़ने के बजाय अब हर मुहल्ले में आपस में ही लड़ रही है टीएमसी।

उन्होंने कहा कि तृणमूल नेता अनुब्रत मंडल के नेतृत्व में रुपये लूटे जा रहे है। जबकि आम लोग आर्थिक रूप से कमजोर पड़ गये हैं। माकपा नेता ने आरोप लगाया कि सिविक वालंटियर को सामने रखकर पुलिस वसूली कर रही है।

पुलिस के माध्यम से टीएमसी भी वसूली कर रही है। इतना ही नहीं बल्कि चंदन लकड़ी, कोयले की तस्करी, सोने के बिस्कुट की तस्करी हर जगह से रुपये हाथों-हाथ कालीघाट पहुंच रहा है।

इसे भी पढ़ेः शिक्षक भर्ती घोटालाः माणिक के करीबी तापस मंडल से ED की पूछताछ जारी

माकपा नेता ने यह भी आरोप लगाया कि ममता बनर्जी ने भ्रष्ट्राचार का पहाड़ खड़ा किया है। टीएमसी सरकार के साथ ही माकपा ने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। माकपा नेता सलीम ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की मिलीभगत से सरकारी शिक्षा व्यवस्था को ध्वस्त किया जा रहा है।

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि सिर्फ राज्य ही नहीं, केंद्र सरकार के खिलाफ भी एकजुट राजनीतिक लड़ाई लड़नी पड़ेगी।