कॉल सेंटर की आड़ में करते थे ठगी, CID के हत्थे चढ़े 5

बजाज फाइनेंस के नाम पर लोगों से ठगी की जाती थी

141

कोलकाता : पश्चिम बंगाल राज्य अपराध जांच विभाग (सीआईडी) ने उत्तर 24 परगना जिले के मध्यमग्राम में एक फर्जी कॉल सेंटर का भण्डाफोड़ किया है जहां बजाज फाइनेंस के नाम पर लोगों से ठगी की जाती थी।

राज्य सीआईडी की ओर से बुधवार को बताया गया है कि मंगलवार को देर शाम पुख्ता सूचना मिलने पर बारासात पुलिस जिले के मध्यमग्राम थाना क्षेत्र में मौजूद एसपी फाइनेंस नाम के एक कॉल सेंटर में सीआईडी ने स्थानीय थाने के साथ मिलकर छापेमारी की थी।

पता चला कि चंदन साहा नाम के एक शख्स ने इस कॉल सेंटर को खोला है और चार अन्य लोगों को अपने साथ रख कर बजाज फाइनेंस के नाम पर लोगों को फोन करवाता था।

यहां सस्ते लोन देने के नाम पर लोगों को अपनी जाल में फंसाया जाता था और उनसे जीएसटी, प्रोसेसिंग फी के नाम पर लाखों रुपये की ठगी की जाती थी। इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इसकी पहचान कॉल सेंटर मालिक चंदन साहा के अलावा बारुईपुर थाना क्षेत्र के चंपाहाटी के रहने वाले समीरन दे, मध्यमग्राम के ही रहने वाले राहुल दाम, बारासात थाना क्षेत्र के चांपाडाली के रहने वाले राहुल रॉय और बारानगर थाना क्षेत्र के नियोगी पाड़ा रोड निवासी संजय देवनाथ के तौर पर हुई है।

इनके पास से बजाज फाइनेंस के नाम के कई फर्जी दस्तावेज, लैपटॉप, पेन ड्राइव आदि बरामद किए गए हैं। इनके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 417, 419, 420, 465, 467, 468, 471 और 120 बी के साथ-साथ 34 के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। उन्हें आज बुधवार को कोलकाता के अलीपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा।