आप गुजरात विधानसभा चुनाव जीतेगी : केजरीवाल

केजरीवाल ने लिखित में दावा किया

139

सूरतः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को लिखित में दावा किया कि आम आदमी पार्टी (आप) आगामी विधानसभा चुनाव में गुजरात में सरकार बनाएगी।

उन्होंने गुजरात में सरकारी कर्मचारियों के लिए अगले साल 31 जनवरी तक पुरानी पेंशन योजना के क्रियान्वयन का वादा करते हुए उनसे आप का समर्थन करने का अनुरोध भी किया।

सूरत में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली तथा पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए की गई उनकी भविष्यवाणी सच साबित हुई और गुजरात में भी ऐसा ही होगा।

उन्होंने दावा किया कि लोग सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से इतने डरे हुए हैं कि वे गुजरात विधानसभा चुनाव में आप के लिए समर्थन को खुलकर स्वीकार करने से हिचक रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा कि मैं आप सबके सामने लिखित रूप से एक भविष्यवाणी करने जा रहा हूं…लिख लीजिए कि आप गुजरात में सरकार बनाने जा रही है। 27 साल के कुशासन के बाद गुजरात के लोगों को इन लोगों (भाजपा) से छुटकारा मिलेगा।

इसके बाद उन्होंने अपनी ‘‘भविष्यवाणी’’ एक कागज पर लिखी और इसे मीडियाकर्मियों को दिखाया। आप के राष्ट्रीय संयोजक ने पुरानी पेंशन योजना समेत अन्य मांग कर रहे सरकारी कर्मचारियों से राज्य में उनकी पार्टी की सरकार बनाने में मदद करने का आग्रह किया।

गुजरात सरकार ने एक अप्रैल 2005 को या उसके बाद सेवा में शामिल हुए कर्मचारियों के लिए नई अंशदायी पेंशन योजना (एनपीएस) की घोषणा की थी।

इसे लेकर कर्मचारियों के प्रदर्शन के बाद राज्य सरकार ने कहा था कि नई पेंशन उन कर्मचारियों पर लागू नहीं होगी जो अप्रैल 2005 से पहले भर्ती हुए थे।

कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग करते हुए गुजरात में सरकार के खिलाफ व्यापक आंदोलन किया। सरकारी कर्मचारियों का मानना है कि नई पेंशन योजना सेवानिवृत्त कर्मचारियों के हित में नहीं है।

इसे भी पढ़ेंः यात्रीगण ध्यान दें! कोलकाता से बिहार के प्रमुख शहरों को जाने वाली 14 ट्रेनें रद्द

केजरीवाल ने कहा कि 31 जनवरी तक हम गुजरात में पुरानी पेंशन योजना लागू करने के लिए एक अधिसूचना जारी करेंगे। मैं सिर्फ कह नहीं रहा हूं। पंजाब में हमने अधिसूचना जारी की है।

उन्होंने कहा कि अन्य अनुबंधित कर्मचारियों, पुलिसकर्मियों, राज्य परिवहन कर्मियों, ग्रामीण कम्प्यूटर उद्यमियों, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, शिक्षकों, स्वास्थ्यकर्मियों, सफाई कर्मचारियों के ग्रेड वेतन, स्थायी नौकरी, वेतन वृद्धि और तबादलों से संबंधित विभिन्न मुद्दे हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं उन्हें आश्वस्त करता हूं कि हम उनके मुद्दे हल करेंगे। मैं हाथ जोड़कर उनसे पार्टी को चुनाव जिताने का अनुरोध करता हूं, सरकारी कर्मचारियों का सहयोग महत्वपूर्ण है। मैं उनसे एक-एक वोट आप को देने की अपील करता हूं।

केजरीवाल ने दावा किया कि भाजपा बौखला गयी है क्योंकि उसे हार दिखायी दे रही है और कांग्रेस मुकाबले में कहीं नहीं है।

उन्होंने कहा कि 27 साल में यह पहली बार है कि भाजपा इतनी बौखला गयी है। आप सड़क पर जाइए और लोगों से पूछिए वे किसे वोट देंगे। वे आप या भाजपा कहेंगे।

जो कहते हैं कि वे भाजपा को वोट देंगे, वे पांच मिनट बाद बताएंगे कि वे और उनका पूरा मोहल्ला झाडू (आप का चुनावी चिह्न) के लिए वोट करने जा रहे हैं।

आप नेता ने कहा कि लोगों की प्रतिक्रिया देखकर लगता है कि हर कोई आप को वोट देने के लिए भाजपा का साथ छोड़ रहा है।

केजरीवाल ने दावा किया कि हमने कई राज्यों में चुनाव लड़े लेकिन गुजरात पहला राज्य है जहां लोग यह बताने से डर रहे हैं कि वे किसे वोट देंगे। आम आदमी डरा हुआ है। दूसरा, कांग्रेस के मतदाता ढूंढे़ नहीं मिल रहे हैं और तीसरा भाजपा के समर्थक बड़ी संख्या में आप को वोट देने जा रहे हैं।