बाल-बाल बची वैशाली सुपरफास्ट, रेल ट्रैक था क्रेक

ट्रैक मैन ने दिखायी लाल झंडी

86

बेगूसरायः बरौनी-कटिहार रेलखंड पर शुक्रवार को रेल पटरी के क्रैक होने से सहरसा से नई दिल्ली जा रही 12553 वैशाली सुपरफास्ट एक्सप्रेस (Vaishali Superfast Express) दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को जब सहरसा से नई दिल्ली जा रही वैशाली सुपरफास्ट एक्सप्रेस अपलाइन से गुजरने वाली थी, इसी दौरान लाखो और दनौली फुलवरिया स्टेशन (Lakho and Danauli Phulwaria stations) के बीच गश्त कर रहे की-मैन की नजर पोल संख्या 155/01 के समीप टूटी हुई पटरी पर गई।

इसे भी पढ़ेंः West Bengal : ट्रेन की चपेट में आने से  रेलवे के पूर्व कर्मचारी की मौत 

जिसके बाद आनन-फनन में लाल झंडा दिखाया गया। लेकिन तब तक ट्रेन काफी करीब आ चुकी थी, लेकिन लाल झंडा पर नजर पड़ते ही ड्राइवर ने ट्रेन को रोक दिया और सूचना कंट्रोल को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही रेल महकमा में हड़कंप मच गया।

इसके बाद में पहुंचे रेल कर्मियों ने डेढ़ घंटे से भी अधिक कोशिश के बाद रेलवे लाइन को अस्थाई रूप से ठीक कर रुकी हुए वैशाली सुपरफास्ट को 10.20 बजे रवाना कराया। इसके बाद सभी ट्रेनों को कॉशन के आधार पर काफी धीमी गति से मौके पर से पास कराया जा रहा है।

इस दौरान राज्यरानी एक्सप्रेस जहां दनौली फुलवरिया स्टेशन पर रुकी रही। वहीं, कटिहार इंटरसिटी सहित अप लाइन की अन्य ट्रेन भी विभिन्न स्टेशनों पर रुकी रही। गनीमत यह रही कि एक बड़ा हादसा होने से टल गया।

फिलहाल रेलवे के अधिकारी मौके पर जुटे हुए हैं। इस संबंध में रेल अधिकारी अभी कुछ नहीं बता रहे हैं। लेकिन संभावना जताई जा रही है सुबह में ट्रेन गुजरने के बाद पटरी टूटी है।

रेलकर्मी का कहना है की ठंड के मौसम में तकनीकी कारणों से ऐसी घटना होती है। लेकिन टूटी हुई पटरी की स्थिति बता रही है कि यह साजिश भी हो सकती है।

फिलहाल रेलवे के अधिकारी पटरी टूटने के मामले की जांच कर रहे हैं, उसके बाद ही इस संबंध में स्पष्ट रूप से कुछ कहा जा सकता है।