अंडमान में भारी वर्षा और तूफान का अलर्ट जारी, उत्तर भारत में बढ़ेगी सर्दी

पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में दिन और रात के तापमान में और भी गिरावट

84

नई दिल्लीः भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) (आईएमडी) ने 15-16 नवंबर को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में कुछ जगहों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसे देखते हुए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ), भारतीय तट रक्षक (आईसीजी) और नौसेना की सभी यूनिट्स को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

मौसम विभाग ने सोमवार से अगले चार दिनों के लिए अलर्ट जारी किया है। लेकिन 15 और 16 नवंबर को पोर्ट ब्लेयर, कैंपबेल बे, कामोर्टा और डिगलीपुर सहित द्वीपसमूह के कुछ हिस्सों में बारिश के कहर के आसार हैं।
आपदा प्रबंधन निदेशालय द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि खराब मौसम के कारण अंडमान सागर में हवा की गति 45 किमी प्रति घंटे से अधिक होने की संभावना है।

मछुआरों को आने वाले कुछ दिनों में समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। साथ ही पर्यटकों को घरों के अंदर रहने के लिए कहा गया है। लोगों को कॉर्बिन कोव, स्वराज, एलिफेंटा, कॉलिनपुर समुद्र तट, शहीद द्वीप और वंडूर आदि में एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

इसे भी पढ़ेंः तमिलनाडु में सोमवार से कुछ दिनों के लिए बारिश थमने की संभावना

खराब मौसम के कारण कोलकाता, दिल्ली, विशाखापत्तनम और चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर के लिए उड़ान सेवाओं पर असर पड़ सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में अगले कुछ दिनों तक व्यापक रूप से हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी होने की संभावना जताई है।

मौसम कार्यालय ने यह भी भविष्यवाणी की है कि उत्तर भारतीय राज्यों में तापमान में कुछ डिग्री की गिरावट आने की संभावना है। 14 नवंबर को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश में गरज के साथ हल्की से मध्यम वर्षा-बर्फबारी के साथ बिजली गिरने की संभावना है।
इसके साथ ही उत्तराखंड में अलग-अलग जगहों पर हल्की बारिश-बर्फबारी होने की संभावना है।

14 नवंबर, 2022 को हरियाणा और पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग जगहों पर हल्की वर्षा की संभावना है। अगले 48 घंटों के बाद उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आ सकती है। खराब मौसम के कारण कोलकाता, दिल्ली, विशाखापत्तनम और चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर के लिए उड़ान सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं और यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे यात्रा की व्यवस्था करने से पहले जानकारी जुटा लें।

स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के मुताबिक केरल और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा तटीय कर्नाटक में एक या दो जगहों पर मध्यम बारिश की संभावना है।

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और लद्दाख क्षेत्र में कुछ क्षेत्रों में बर्फ के साथ हल्की मध्यम बारिश हो सकती है। उत्तर पश्चिम, मध्य और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में दिन और रात के तापमान में और भी गिरावट आ सकती है।