श्रद्धा हत्याकांड: दिल्ली की अदालत ने पूनावाला की नार्को जांच कराने की अनुमति दी

कड़ी सुरक्षा के बीच फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी में पॉलीग्राफ टेस्ट हुआ

123

नई दिल्लीः  दिल्ली की एक अदालत ने रोहिणी स्थित विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएससी) में आफताब अमीन पूनावाला की नार्को जांच कराने की मंगलवार को अनुमति दे दी।

पूनावाला के वकील अबिनाश कुमार ने बताया कि पुलिस ने आरोपी को एक दिसंबर और पांच दिसंबर को रोहिणी स्थित प्रयोगशाला ले जाने की अनुमति दिए जाने का अनुरोध किया था, जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया। पूनावाला (28) पर अपनी ‘लिव-इन पार्टनर’ श्रद्धा वालकर की हत्या करने और उसके शव के 35 टुकड़े करने का आरोप है।

ऐसा आरोप है कि उसने शव के टुकड़ों को दक्षिण दिल्ली में महरौली के अपने घर में करीब तीन सप्ताह तक 300 लीटर के एक फ्रिज में रखा और फिर कई रातों तक उसे शहर के विभिन्न स्थानों पर फेंका।

इसे भी पढ़ेंः श्रद्धा हत्याकांडः जिस हथियार से किए गए थे मृतका के 35 टुकड़े, लग गया पुलिस के हाथ

आफताब के नार्को टेस्ट के लिए दिल्ली पुलिस कोर्ट से मांगी थी 

विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) सागर प्रीत हुड्डा ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली पुलिस श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला का नार्को टेस्ट कराने के लिए 1 दिसंबर को अदालत से अनुमति मांगी।

दिल्ली के महरौली इलाके में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाल्कर की जघन्य हत्या के आरोपी आफताब का मंगलवार को कड़ी सुरक्षा के बीच रोहिणी स्थित फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) में पॉलीग्राफ टेस्ट हुआ।

सोमवार को एफएसएल के अधिकारियों ने आफताब का करीब सात घंटे तक पॉलीग्राफ टेस्ट किया था।

एफएसएल के उप निदेशक संजीव गुप्ता ने कहा कि पॉलीग्राफ टेस्ट आगे भी जारी रहने की संभावना है। अधिकारी ने कहा, “नार्को टेस्ट की प्रक्रिया भी जल्द शुरू होगी।”

सूत्रों ने कहा कि इस मामले में एक पॉलीग्राफ और एक नार्को टेस्ट अनिवार्य है, क्योंकि पूछताछ के दौरान आफताब पूछताछकर्ताओं को गुमराह करने की कोशिश कर रहा था।