राष्ट्रपति पर टिप्पणी: शुभेंदु पहुंचे राजभवन, कहा-मंत्री को हटाएं

तृणमूल के छात्रों और युवा नेताओं ने शुभेंदु को ''गेट वेल सून'' लिखे कार्ड भेजे

121

कोलकाताः पश्चिम बंगाल के मंत्री अखिल गिरि के राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू लेकर दिये गये आपत्तिजनक बयान को लेकर बवाल मचा हुआ है।

दूसरी ओर, अखिल गिरि के राष्ट्रपति को लेकर दिये गये बयान के खिलाफ नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी के नेतृत्व में विधायकों ने विधानसभा से राजभवन से जुलूस निकाला. सभी राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू की तस्वीर पहने थे और हाथ में तिरंगा झंडा था. शुभेंदु अधिकारी ने राज्यपाल द्वारा समय नहीं देने पर नाराजगी जतायी.

बता दें कि, अखिल गिरि के बयान के खिलाफ तीसरे दिन भी राज्य के विभिन्न इलाकों में प्रदर्शन जारी है. आदिवासी समुदाय के लोगों ने सोमवार को विभिन्न जिलों में जुलूस निकाला और सड़क अवरोध किया.

भाजपा विधायक दल के विधायक राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की तस्वीर गले में लटकाकर राजभवन गये. सभी ममता बनर्जी सरकार और मंत्री अखिल गिरि के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. सूत्रों के मुताबिक, शीतकालीन सत्र के दौरान विधानसभा के अंदर अखिल गिरि की टिप्पणियों को लेकर भाजपा   मंत्री को कैबिनेट से हटाने की मांग करेगी।

कहा जा रहा है कि विधानसभा में ममता बनर्जी की मौजूदगी में भी यह मुद्दा उठाया जाएगा। मुख्यमंत्री का 25 नवंबर को विधानसभा आने का कार्यक्रम है।

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री राज्यपाल को हटाने की सिफारिश नहीं की।  शनिवार से राज्यपाल से मेल करके मिलने के समय मांगा था। अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्णप किया।

राज्यपाल से अपील की कि वह सीएम को मंत्री को बर्खास्त करने की सलाह दें। नहीं करने पर विधानसभा के अधिवेशन के दौरान विधायक संसदीय व्यवस्था मानकर विरोध करेगा।

उन्होंने बार-बार मांग की कि बयान देने वाले मंत्री को हटाया जाये। उन्होंने भारत के संवैधानिक प्रधान का अपमान किया है। शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि तीन दिनों तक मेल करने के बाद भी राज्यपाल का समय नहीं मिला।  राज्यपाल इम्फाल में रहें या और कहीं। वे सीएम को मंत्री को हटाने का निर्देश दें। अन्यथा इसके खिलाफ विधानसभा में प्रदर्शन होगा।

तृणमूल नेता सायनी घोष ने शुभेंदु अधिकारी को दी बाल दिवस की शुभकामनाएं

विपक्षी दल के नेता शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधते हुए तृणमूल कांग्रेस के छात्र-युवा नेतृत्व ने राज्य भर में गेट वेल सून नामक कार्यक्रम शुरु किया है।

सोमवार सुबह से शुभेंदु अधिकारी को पूर्वी मेदिनीपुर से ”गेट वेल सून” लिखा कार्ड भेजा जा रहा है। कार्ड में अभिषेक बनर्जी की फोटो, गुलाब के फूल हैं।

हर घर तक कार्ड पहुंचाया जाएगा। इस बीच युवा तृणमूल नेता सायनी घोष ने भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी पर तंज कसते हुए एक तस्वीर ट्वीट किया है। इस ट्वीट के माध्यम से सायनी ने शुभेंदु अधिकारी को बाल दिवस की शुभकामनाएं दी हैं।

दरअसल, तृणमूल छात्र-युवा नेतृत्व के इस कार्यक्रम के पीछे रविवार को शुभेंदु की ओर से किया गया एक ट्वीट है। राज्य में विपक्ष के नेता ने अभिषेक बनर्जी के फुटबॉल क्लब के कार्यक्रम को बर्थडे पार्टी करार दिया था।

इसे भी पढ़ेंः गलतियां तो सबसे होती हैं, उन्हें सुधारने का मौका देना चाहिएः ममता बनर्जी

शुभेंदु ने दावा किया कि जिस फाइव स्टार होटल में अभिषेक ने अपने बेटे की बर्थडे पार्टी का आयोजन किया था, उस होटल को कड़ी सुरक्षा की चादर में पूर्ण रूप से ढक दिया गया था।

तृणमूल के प्रदेश महासचिव और पार्टी प्रवक्ता कुणाल घोष ने उन्हें जवाब देने के लिए में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने नेता प्रतिपक्ष के मानसिक स्वास्थ्य पर सवाल उठाया।

उन्होंने कहा कि शुभेंदु अभिषेक बनर्जी यानी एबी फोबिया से पीड़ित हैं। कुणाल घोष ने उसी के तहत ”गेट वेल सून” कार्यक्रम के बारे में बात की।

सोमवार को कुणाल घोष के कहे अनुसार तृणमूल के छात्रों और युवा नेताओं ने शुभेंदु को ”गेट वेल सून” लिखे कार्ड भेजे। युवा तृणमूल नेता सायनी घोष ने इस काम में संगठन को प्रोत्साहित करने के लिए सोशल मीडिया पर पोस्ट किया।

ट्वीट में उन्होंने शुभेंदु अधिकारी को निशाने पर लिया। बाल दिवस की शुभकामनाएं लिखकर सायनी ने शिवेंद्र अधिकारी के मानसिक स्वास्थ्य की कामना करने की बात कही।