नियुक्तियों में संवेदनशील अधिकारियों को दी जाएगी प्राथमिकता : शिवराज

भ्रष्टाचार के मामलों में की रही है त्वरित कार्रवाई

102

भोपालः मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कहा कि मैदानी नियुक्तियों में कर्मठ और संवेदनशील अधिकारियों और कर्मचारियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

चौहान ने अपने निवास कार्यालय से प्रदेश की विकास गतिविधियों और जन कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में मंत्रियों तथा विधायकों से वर्चुअली संवाद किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के प्रति राज्य शासन की जीरो टॉलरेंस की नीति है।

भ्रष्टाचार के मामलों में त्वरित कार्रवाई की जा रही हैं। जहां गड़बड़ होगी वहां दोषियों को दंडित किया जाएगा। बैठक में बताया गया कि महिला बाल विकास विभाग में 104 लोगों पर कार्रवाई की गई है और 26 को नौकरी से बाहर किया गया है।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता को राहत देने के लिए स्वच्छ प्रशासनिक व्यवस्था का क्रियान्वयन सुनिश्चित करना हमारा दायित्व है। मैदानी नियुक्तियों में कर्मठ और संवेदनशील अधिकारियों और कर्मचारियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

इसे भी पढ़ेः शिवराज ने पेट्रोलियम उत्पाद के टैंकर पलटने की दुर्घटना पर जताया शोक